गठन : 19 जनवरी 2014

स्थापना : 12 सितम्बर 2014

रजिस्ट्रेशन संख्या : 56/64/2014/रा.द.अनु. 1/39

एक नज़र

आदर्श जनहित पार्टी

दल विधि द्वारा स्थापित भारत के संविधान के प्रति तथा समाजवाद, पंथ निरपेक्षता और लोकतंत्र के सिद्धांतों के प्रति सच्ची श्रद्धा और निष्ठा रखेगा तथा भारत की प्रभुता एकता व अखंडता को अक्षुक रखेगा।  आदर्श जनहित पार्टी लोकतांत्रिक, धर्मनिरपेक्ष, सामाजिक, समरसता,राष्ट्रीय, विकास, समाजवादी राष्ट्र का निर्माण, राष्ट्रीय एकता एवं गरीबों के हाथ में सत्ता के लिए कृत – संकल्प है। पार्टी शिक्षा, स्वास्थ्य, जनसंख्या नियंत्रण, पेयजल, सिचाई. बिजली, सड़क, रेल, जई तकनीक और रोजगार मुहैया कराने जैसे बुनियादी सवालों को सर्वोच्च प्राथमिकता देगी और विकास के नये-2 रास्ते निर्धारित करेगी। पार्टी जाति, धर्म के विवादों ऊपर उठकर एक ऐसे राष्ट्र का निर्माण करेगी जो आर्थिक, सामाजिक, राजनैतिक, धार्मिक एवं अन्य हर तरीके के शोषण से मुक्त हो । पार्टी आर्थिक और राजनैतिक सत्ता का विकेन्द्रीकरण कर चौखम्भा राज के सपने को साकार करेगी व साथ ही शान्तिमय लोकतांत्रिक तरीके से किसी व्यक्ति या समूहों का विरोध करने के लोकतांत्रिक अधिकारों को सुरक्षा प्रदान करेगी। पार्टी स्वाधीनता संग्राम के दौरान स्थापित मूल्यों और आईशों के आधार पर राष्ट्र और खासकर देश की युवा शक्ति को संगठित कर राष्ट्रीय एकता और अखंडता को अक्षुण्ण बनाये रखाने हेतु हर तरह की कुर्बानी देगी। पार्टी देश की क्षेत्रीय असंतुलन को कासार ढंग से समाप्त कर संविधान द्वारा प्रदत्त संघवाद की भावना को सच्चे रूप में मजबूत रस्नेगी। इस पार्टी का मुख्य उद्देश्य रहेगा हर परिवार हो सुखी परिवार।

मनुष्य एक सामाजिक प्राणी है अतः समाज की रीतियौ- नीतियों का प्रभाव उसके ऊपर अवश्य पड़ता है। जब वह असभ्य था तो वह शारीरिक बल से छीना झपटी किया करता था। जैसे-जैसे उसका मानसिक विकास होता गया वैसे वैसे उसने छीना झपटी के लिए बुद्धि का उपयोग करना प्रारंभ कर दिया। राजनीतिक क्षेत्र में के माध्यम से अग्रणी होकर कामगार जातियों के साथ भेदभाव करते हुए छीना झपटी शोषण और उनके अधिकारों का छीना है। उन्होंने उन सभी जातियों के साथ भेदभाव किया है और उनके अधिकारों को छीना है। सभी जगह कम या अधिक शोषणकारी वृत्तियां देखने को मिली है। हमारे देश मैं शोषण की प्रवृत्तियां प्राचीन काल से हो रही है। जो कि आज भी भारतवर्ष में कुछ समुदायों ने दूसरे समुदाय के हक व अधिकारों को छीना है या छिपाया है। सबसे ज्यादा दोहराघात कुठाराघात शुद्र वर्ण पर किया गया है जिसमें अनुसूचितजाति/जनजाति तथा अन्य पिछड़ा वर्ग विशेष रूप से सम्मिलित है। इन जातियों के हक और अधिकार को छीना गया है।
देश को आजादी का नाम मिल गया लेकिन कुछ वर्ग आज भी मानसिक दासता और गुलामी के शिकार हैं मानसिक दासता और गुलामी का प्रभाव उनके शरीर कार्य एवं विकास पर स्पष्ट रूप से दिखाई देता है। अति पिछड़ी जातियों मानसिक रूप से ग्रस्त हैं। यह जातियां शारीरिक रूप से कमजोर संकोची, हीन- भावना, अज्ञानता, असंगठित, बिखरी आबादी वाले अशिक्षित एवं बेरोजगारी की बहुत बड़ी समस्या है। और यह समस्याएं केवल उनके हक व अधिकारों को छीनने की वजह से हुई है। कुछ समुदायों ने हमारे सभी वर्गों के अधिकारों को छीन झपट कर अपने आप को राज्य सत्ता और केंद्र सत्ता मैं बैठा दिया है। और अति पिछड़ी व अनुसूचितजाति/ जनजाति के ऊपर शोषण होता रहता है।
हक और अधिकारों से वंचित अति पिछड़े वर्ग एवं अनुसूचितजाति/जनजाति के खोए हुए स्वाभिमान एवं हक और अधिकार को दिलाने के लिए संगठित होना अति अत्यावश्यक है। और समतामूलक समाज की स्थापना होनी चाहिए तथा हम सभी अति पिछड़ी एवं अनुसूचितजाति/जनजाति को हक व अधिकार मिलना चाहिए तथा लोकतंत्र में सबकी भागीदारी अति आवश्यक है। अधिकारों से वंचित सभी वर्गों को एकजुट कर तथा उनके अधिकारों को दिलाने के लिए आदर्श जनहित पार्टी संकल्पित है। आप को पूर्ण अधिकार दिलाने के लिए आदर्श जनहित पार्टी सबको बराबरी की भागीदारी दिलाएगी।
जिन समुदायों ने हमारे हक व अधिकारों को छीन झपट कर हमारा शोषण किया है। उनके समुदायों को हम अपनी पार्टी से विधानसभा और लोकसभा के मंदिर मैं पहुंचने के लिए सीडी नहीं देंगे। जिस तरीके से हमारे साथ दोहरा घात व कुठराघात हुआ है। उसी प्रकार हम पूडी के ऊपर गुना देंगे हमारा मानना है कि आगे सभी चुनावों में विधानसभा व लोकसभा के मंदिर में जाकर अधिकारों से वंचित वर्गों के सभी समुदायों के भाई-बहनों को विधानसभा और लोकसभा मैं पहुंचे तथा लोक नीतियां बनाकर अति पिछड़े वर्ग और अनुसूचित जाति/जनजाति को विधि आयोग के तहत को लाभान्वित कराएं।
मुझे आशा ही नहीं अपितु पूर्ण विश्वास है कि आप आदर्श जनहित पार्टी की नीतियों का प्रचार-प्रसार करते हुए अति पिछड़े वर्ग व अनुसूचितजाति/जनजाति की समस्याओं को चिंतन मनन करके उन अधिकारों से वंचित समुदाय की समस्या समाधान करके प्रत्येक विभागीय क्षेत्रों में व राजनीति क्षेत्रों में संगठित होकर अधिकार दिलाएंगे।

आपका

बृजेश कुमार झा
संस्थापक / पार्टी व राष्ट्रीय अध्यक्ष

आदर्श जनहित पार्टी